पुलिस प्रशासन और लोगों के अधिकार

भारत में न्याय का जो तंत्र खड़ा किया गया है उसमे आम जन को भी कुछ अधिकार मिले हैं जिनके आधार पर न्याय के लिए लड़ा जा सकता है और कुछ राहत पाई जा सकती है, बशर्ते कि कानूनी प्रक्रिया की सही जानकारी हो. इस पुस्तक के में संक्षेप में उन अधिकारों को संकलित करने का प्रयास किया गया है जिनको भारत का संविधान और अन्य कानून मान्यता देते हैं और उनके संरक्षण का दावा करते हैं.

हस्तक्षेप (एडवोकेसी मैन्युअल)

अगर आज हम अपने आप को सभ्यता के शिखर पर पाते हैं तो शायद सारा श्रेय उनको जाता है जिन्होंने समाज को नई दिशा प्रदान करने के लिए अपना सब कुछ दांव पर लगा दिया. समाज में व्याप्त कुरीतियों और शोषण के ख़िलाफ़ ऐसे लोगों ने हमेशा अपनी आवाज़ बुलंद की है, शोषित वर्ग के पक्ष में शोषण करने वाली शक्तियों को चुनौतियाँ दी हैं. अतः एडवोकेसी कोई ऐसी चीज़ नहीं है जो कि नई हो या जिसे लोग जानते न हों, बस फ़र्क इतना है कि इस दौर में जनविरोधी ताक़तों ने अपना मायाजाल इस प्रकार फैला रखा है कि...